गणतंत्र दिवस

ऐ हिन्द- ए – ज़मीं मर कर भी हम तुझको ही गले लगाएंगे,
मौत जब आवाज देगी तेरी गोद में ही सर रख सो जाएंगे ।

तू फ़िक्र ना कर तेरे पास रहेंगे तेरी ख़ाक में मिल जाएंगे,
ख़ुशबू बन फूलों में खिलेंगे , खाद बन फसलों में लहराएंगे।

ऐ वतन तेरे शान खातिर सौ जन्म भी कम लगे,
तेरे इश्क़ में पागल हम शहीद जवान फिर से वापिस आयेंगे ।

मौत का हमें डर नहीं जीने की आरज़ू तेरे साथ ,
एक ख़्वाब हमसब ने देखा, हम तिरंगे में लिपटकर आयेंगे ।

भारत तेरी आज़ादी के खातिर जिन वीरों का ख़ून बहा,
गणतंत्र दिवस के मौके पर हम उनकी गाथा गायेंगे ।

ऐ वतन तेरी शान ऊंची, तिरंगा ऊंचा लहराएंगे ,
भारत तू स्वतंत्र है , हम गणतंत्र दिवस मनाएंगे ।।
***आशीष रसीला***

Ashish Rasila

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.