पहले मैंने कहा फिर उसने और प्यार हो गया

एक खुबसूरत सी लडकी को देख एक लड़के  ने कहा
एय हंसी जरा पीछे मुड कर देख एक गर्दिश तेरे पीछे आई है,जरा रुक कर मेरी बात तो सुन ले मेरा दिल तो क्या सांसे भी बगावत पर उतर आई है |
वो लडकी मुडती है और पलट कर जवाब देती है
निकलता है जब चाँद तो उसकी खूबसूरती को देख तारे टूट जाते है ,
इन टूटते तारों की खातिर लोग बेवजह ही चाँद को गुनेहगार ठहराते है |
फिर लडके ने पलट कर जवाब दिया
था मैं सूरज तूम मुझे सितारा समझने की भूल कर बैठी ,
सपने में ही चूमा था तुझे एक बार तू अपना दाग ही  भूल बैठी |
लडकी थोडा गुस्सा हुई और बोली
तेरे जैसे लाखों सूरज तारे बनकर मेरी महफ़िल में रोज सजते है ,
तुझे एक बार देख कोई दुबारा देखता नही,
मेरी एक झलक के लिए लोग सजदे में  खड़े रहते है |
लडके ने तभी पलट कर जवाब दिया
जब लगता है चन्द्र ग्रहण तो तुझे देखना तो दूर लोग तेरे सामने आने से भी डरते है,
उस दिन हम ही एक ऐसे शक्श होते है जो आपके सजदे में खड़े रहते है |
 थोडा सा मुस्कुराई और बोली
मुझे लगता है तेरे दिल में मुहब्बत है मैं दिल लगाने से डरती हूँ ,
खुश हो जाते है जिस पानी में लोग अपनी तस्वीर देख कर, मैं उस पानी की गहराई में डूब जाने  से डरती हूँ |
लडके ने जवाब दिया
ये इश्क का दरिया है जो डूब कर ही पार होता है ,
ये प्यार है मेरी जान बार-बार थोड़ी ही ना होता है |
फिर लडकी ने थोडा उदासी भरे शब्दों में कहा
अगर तू मानता है की प्यार बार-बार नही होता तो मेरा दिल सम्भाल कर रखना ,
अगर गलती से भी टुटा मेरा ये दिल तो अपने कंधे पर मेरा जनाज़ा जरुर रखना |
लडके ने कहा
अगर भूल कर भी टुटा तुम्हारा दिल तो तुम से पहले हम मौत को गले लगायेंगे ,
जब निकलेगा तेरा जनाज़ा तो हम तेरे जनाज़े साथ लेट कर आएंगे
तभी वो दोनों एक दुसरे को गले लगा कर एक साथ बोलते है
एय मेरे खुदा अगर तेरे घर में रहमत है तो मेरा एक काम कर ,
इस शक्श के सारे गम मुझे दे कर मेरी सारी खुशियां  इसके नाम कर |
तभी आसमान से आवाज आती है
जो लोग दूसरों के सुख के खातिर खुद दुःख लेने की दुआ करते है ,
हम भी उनके दुखों को हमारे हिस्से में लिखा करते है ||

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.